PULSAR STAR IN HINDI | MEANING, FORMATION,LIFE , DEATH etc


PULSAR STAR IN HINDI- here you will get everything about pulsars its formation,meaning,life cycle,death etc


PULSAR STAR IN HINDI | MEANING, FORMATION,LIFE , DEATH etc

PULSAR STAR 

जब हम रात को आसमान मे देखते है तो हमे ढेर सारे चमकते हुए बिंदु नजर आते है । वे सभी एक जैसे नजर आते है । पर ध्यान से देखने पर हमे उनमे फर्क दिखाई देता है । और जब हम telescope जैसे यंत्रो से आसमान को देखते है तो हमे यह फर्क और बेहतर नजर आता है । इन्ही चमकती हुई चीजो के बीच मे काही हमे आसमान की धड़कन दिखाई देती है । जिसे हम pulsar कहते है ।

What is a PULSAR?

Pulsar एक ऐसा neutron star होता है । जो electromagnetic radiation की धारिया अपने अंदर से छोड़ता है। हमे pulsar तभी नजर आते है जब उनके की धारियों की दिशा धरती की तरफ हो। 

PULSAR STAR IN HINDI | MEANING, FORMATION,LIFE , DEATH etc
लाइट हाउस 

कुछ उसी तरह जैसे कोई जहाज़ लाइट हाउस को हम तभी देख पता है , जब light house की light beam उसकी दिशा मे हो । इसे pulsar कहा जाता है क्यूकी हमे इसकी चमक pulsate करती हुई नज़र आती है । ऐसा क्यू होता है हम आगे जानेंगे । पर पहले हम यह समझते है की कोई pulsar कैसे बनता है । 

How do pulsars EVOLVE ?

Pulsar की शुरूआत किसी तारे की मौत के दौरान उसके केंद्र के ढह कर neutron star बनने से होती है । इस neutron star के पास उस तारे का सारा mass और angular momentum मौजूद होता है । पर इसका आकार उस तारे के मुक़बले बेहद कम होता है।
PULSAR STAR IN HINDI | MEANING, FORMATION,LIFE , DEATH etc
star and neutron star

जिस वजह से यह बेहद तेजी से घूमता है। बिलकुल उसी प्रकार जिस तरह जब कोई गोल घूमता हुआ dancer अपनी बहो को मोडटा है तो उसकी घूमने की रफ़तर तेज हो जाती है ।Neutron star के बेहद तेज घूमने की वजह से उसकी magnetic field भी बेहद तेजी से घूमती है । neutron star के बेहद ताक़तवर magnetic field के घूमने की वजह से बेहद ताक़तवर electric field बनाती है । जिसके परिणाम स्वरूप neutron star की सतह पर मौजूद electrons और protons accelerate होते है ।और उसकी magnetic axis से electromagnetic radiation की beam उसकी दोनों तरफ छोड़ते है ।

PULSAR STAR IN HINDI | MEANING, FORMATION,LIFE , DEATH etc
Beam of electromagnetic radiation coming out from pulsars magnetic axis

Neutron star की magnetic axis, उसके के rotational axis से align होती है । पर यह जरूरी नहीं की rotational axis और magnetic axis एक दूसरे से aligned हो। जब ऐसा नही होते है । तो इस misalignment की वजह से हमे electromagnetic radiation की धारी , neutron star के एक rotation के दौरान एक बार ही नजर आता है । जिसकी वजह से यह धारी Pulse के रूप मे दिखाई देता है । इस वजह से इसे अपना नाम pulsar मिला है । 

Pulsar का आंत कैसे होता है? 

Neutron star electromagnetic radiation की धारी छोड़ने की वजह से अपनी ऊर्जा और angular momentum खोता जाता है ।जिसकी वजह से वे धीमा पड़ने लगता है । और फिर एक ऐसा समय आता है जब उसके घूमने की रफ्तार इतनी कम हो जाती है। की उसके अंदर से electromagnetic radiation की धारीया निकलना बंद हो जाती है ।और वे अब pulsar नहीं रहेता बस मामूली सा neutron star रेह जाता है। कसी neutron star के इतना धीमे होने मे जिससे उसके अंदर से electromagnetic beam निकालना बंद हो जाए। करीब 1–100 करोड़ वर्ष जीतने लग जाते है । इसका अर्थ यह है की ब्रह्मांड के 13.7 अरब वर्ष की आयु मे बने सभी neutron stars मे से 99% अब pulsar नहीं रहे। 

RECYCLED PULSAR?

जब molecular cloud मे दो बेहद भरी एक तारे दूसेरे के काफी करीब जनमते है , तो वे binary system बनाते है। और एक दूसेरे का चक्कर काटने लगते है। यदि उनमे से एक तारा हमारे सूर्य से 1.5 गुना से ज्यादा भरी हो । तो वे अपने जीवन का आंत supernova विस्फोट के साथ करता हुआ एक neutron star बन जाएगा । यह neutron star कुछ वक्त तक pulsar के रूप मे नजर आएगा और फिर धीरे धीरे ऊर्जा खोता हुआ सान्त हो जाएगा । जब दूसरा तारा उम्र होने के साथ बड़ा होता जाता है या फिर वे neutron star के काफी करीब आ जाते है । जिसकी वजह से neutron star उसकी सामग्री अपने अंदर खींचने लगता है । और यह आतरिक्त ऊर्जा और सामग्री पाने की वजह से वे फिर इतनी तेजी से घूमने लगता है की पुनः उसके अंदर pulsar दिखाई देने लगता है । ऐसे पुनः उज्वलित pulsars को recycled pulsar कहा जाता है । Recycled pulsars को millisecond pulsar भी कहा जाता है । इनकी की rotational period 1 से 10 milliseconds जितनी होती है । इनको को electromagnetic spectrum के radio, X-Ray और gamma ray हिस्से मे देखा जा सकता है।
इनका रोटेशन पीरियड इतना सटीक होता है की ये एटॉमिक घडिओ सा भी सटीक होती है इस लिए यह pulsars एक बेहद सटीक समाया सूचक साबित हो सकते है। तो यह था pulsar . धन्यवाद। 















Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *